गांव जहां 150 से ज्यादा घर,जनसंख्या 350 से अधिक लेकिन ग्रामीणों को नहीं मिलता एक भी योजनाओं का लाभ…

गुप्तेश्वर जोशी,बीजापुर। छत्तीसगढ़ राज्य के सबसे अंतिम छोर व तेलंगाना राज्य से सटे ग्राम पंचायत पुजारीकांकेर का आश्रित गाँव कोत्तापल्ली के ग्रामीण गुरुवार को बीजापुर के विधायक एवं बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विक्रम मंडावी से मिले। मुलाक़ात के दौरान ग्रामीणों ने विधायक को बताया कि शासन के किसी भी योजना का लाभ कोत्तापल्ली के ग्रामीणों को नहीं मिलता है.

READ MORE:CM BHUPESH BAGHEL : भेंट-मुलाकात में सीएम आज इस जिले के लोगों की समस्या करेंगे दूर, अफसरों के साथ होगी समीक्षा बैठक

जबकि इस गाँव में लगभग 150 मकान व जनसंख्या लगभग 350 है सुविधाओं के अभाव में गाँव वाले तेलंगाना से अपने ज़रूरत की सामग्रियों का लेनदेन करते है। ऐसा पहली बार हुआ की ग्राम कोत्तापल्ली के ग्रामीण आज़ादी के बाद पहली बार गाँव से निकलकर किसी जन-प्रतिनिधि से मुलाक़ात करने ज़िला मुख्यालय बीजापुर पहुँचे और अपने गाँव के लिए बिजली, बोरिंग, आंगनबाड़ी, राशन दुकान, गाँव में एक देवगुडी, सौर डुएल पम्प, टेंट हाउस से सम्बंधित सामग्री और तालाबों के गहरीकरण की माँग विधायक विक्रम से की है.

READ MORE:बॉलीवुड की ऐसी एक्ट्रेस जो है CM की बहू, फिर भी पैसों और रुतबे का जरा भी नही करती घमंड, बच्चो को पैदल छोड़ने जाती है स्कूल

जिसे विधायक विक्रम ने तत्काल स्वीकृति दे दी, ग्रामीणों द्वारा बिजली की माँग पर विधायक विक्रम मंडावी ने कहा की पामेड की तर्ज़ पर कोत्तापल्ली में भी बिजली आपूर्ति की व्यवस्था करने की पूरी कोशिश की जाएगी तब तक सौर ऊर्जा के माध्यम से गाँव में सुचारु रूप से बिजली पहुँचाई जाएगी। तेलंगाना से सटे गाँव कोत्तापल्ली के ग्रामीणों से मुलाक़ात कर ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए विधायक विक्रम शाह मंडावी ने कहा कि

READ MORE:CG CRIME: बाल सुधार गृह से भागे दो बाल अपचारी, बस्ती में पहुंचा तो लोगों ने कर दी सारी हदें पार…

“लोग विकास और परिवर्तन चाहते है। यही कारण है कि अंदरूनी क्षेत्र के लोग बिजली, पानी, आंगनबाड़ी, राशन दुकान और सड़कों की माँग कर रहे है।” विधायक विक्रम मंडावी से मिलने वालों में कोत्तापल्ली ग्राम के कोरम पापैया, रगुत हनमैया, ईरपा नरसिंह राव, ऐकन्ना, सुरटी रामबाबू, नगार्जून मज्जी, बी. बालराजू, कोरम रामाराव, जगपती मज्जी,गोगड राजू, एलकम सर्वेशराव, मज्जी नागेश, ताटी राजान्ना, बाबूराव, वट्टाम स्वामी, उईका दुलाम्मा, मन्नीम्मा, पदमा आदि थे।

Leave a Comment