ट्रेन की रफ्तार बढ़ाने रेलवे ने लिया ट्रायल,130 की रफ्तार से चली ट्रेन, चार घंटे में दुर्ग से झारसुगुड़ा पहुंची ट्रेन

रायपुर। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने पटरियों के चल रहा कार्य कई रुट में पूरा हो चुका है। शुक्रवार को दुर्ग से झारसुगुड़ा तक ट्रेन को 130 किमी की रफ्तार से चलाने के लिए ट्रायल होगा। रेलवे इंजीनियर ने पटरी का काम खत्म कर रिपोर्ट रेलवे मुख्यालय में सौंपा दिया था। गुरुवार को डाउन लाइन को परखने 24 एलएचबी कोच की ट्रेन के साथ ट्रेन दौड़ाई गई। स्टेशन से गुजरते वक्त रफ्तार को कम हुई लेकिन रेलवे फाटक से जब ट्रेन 130 की रफ्तार से धूल उठाते हुए गुजरी तो हर कोई चकित होकर देखता ही रहा।

रेलवे अधिकारियों से मिली जानकारी मुताबिक यह प्रशिक्षण तीन चरण लाइन अप, मीडिल व डाउन में स्पीड ट्रायल में लिया जा रहा है।। यह दो दिन चलेगा। पहले दिन डाउन लाइन प्रशिक्षण सफल बताया जा रहा हैं। सभी चरणों में जांच के बाद रिपोर्ट सीआरएस को भेजा जाएगा। उनसे अनुमति मिलते ही इस सेक्शन पर 130 किमी की रफ्तार से ट्रेनें चलने लगेंगी। दुर्ग से झारसुगुड़ा के बीच की दूरी 320 किमी है।

read more : RAIPUR Railway: ट्रेन रद्द करने के बाद नहीं लगा अतिरिक्त कोच और ना यात्रियों को मिल रही स्पेशल ट्रेनों की सुविधा

वर्तमान में एलएचबी कोच की गाड़ियां 110 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही हैं। 130 में चलने के बाद यात्रियों को दुर्ग से झारसुगुड़ा पहुंचने के लिए 5 से 6 घंटे का समय नहीं लगेगा। 4 घंटे एक्सप्रेस ट्रेन 320 दूरी तक तक झारसुगुड़ा पहुंच जाएगी। कोरोना काल से रफ्तार बढ़ाने का काम तेजी से चल रहा था। दुर्ग से नागपुर तक 130 की रफ्तार से ट्रेन चलाकर सफल होने के बाद वर्तमान में इसी रफ्तार से ट्रेन दौड़ रही है। ट्रायल सफल रहा तो एक घंटे की बचत होगी। बता दे, संबंधित विभाग ने काम पूरा होने के बाद रिपोर्ट थी है कि यह ट्रैक अब 130 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने की स्थिति में है। इससे परिचालन में किसी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न नहीं होगा। इसके बाद ही ट्रायल की योजना बनाई गई।

read more : VIRAL VIDEO: जल्दी पहुंची यात्री ट्रेन तो लोगों ने गरबा कर मनाया जश्न, रेलवे बोर्ड को ट्वीट कर कहां, पहली बार ऐसा चमत्कार ! यात्री से पहले ट्रेन पहुंच गई स्टेशन

झारसुगुड़ा से दुर्ग के बीच अप लाइन पर ट्रायल होगा ट्रायल आज सुबह किया जाएगा। ट्रेन झारसुगुड़ा  से 6:45 बजे छूटकर दुर्ग 12:00 बजे पहुंचेगी। इसी बीच बिलासपुर से दुर्ग के बीच मीडिल लाइन पर 130 किमी स्पीड ट्रायल होगा। रेलवे के अनुसार ट्रायल के दौरान 24 एलएचबी कोच की ट्रेन चलाई जाएगी। ट्रायल के दौरान यह देखा जाएगा कि ट्रैक पर चलने के दौरान ट्रेन कितनी हिलती है। रेलवे इंजीनियर का दावा है इस पटरी का काम होने के बाद ट्रेन 120 से 130 के बीच आसानी से चल सकती है।

Leave a Comment