Monkey Pox Virus : भारत में मंकी पॉक्स वायरस की एंट्री ! एमपी में अलर्ट हुआ जारी, जानिए इस संक्रमण के लक्षण और बचाव

दिल्ली। कोरोना के बाद अब देश में Monkey Pox Virus मंडरा रहा है। देश के सभी राज्य की सरकार इस संक्रमण को लेकर सतर्क हो चुके है। सोमवार को एमपी में भी अलर्ट कर दिया गया है। अभी भारत में एंट्री नहीं हुई है लेकिन कई लोगों के शरीर में लक्षण देखने को मिले है. इसकी जाँच जारी है। आपको बता दें एमपी में विदेश से आने वाले यात्रियों की विशेष निगरानी के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अब तक 11 देशों में मंकी पॉक्स के मरीज मिल चुके हैं। हालांकि भारत में मंकी पॉक्स से संक्रमण का अब तक कोई मामला सामने नहीं आया है।READ MORE : Corona Updates : छत्तीसगढ़ में आज मिले 9 संक्रमित, स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया बुलेटिन

बीते दिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस संबंध में हवाई अड्डों और बंदरगाहों के स्वास्थ्य अधिकारियों को भी सतर्क रहने का निर्देश दिए थे। ‘‘उन्हें निर्देश दिया गया था कि मंकीपॉक्स प्रभावित देशों की यात्रा कर लौटे किसी भी बीमार यात्री को अलग कर दिया जाए और नमूने जांच के लिए पुणे में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की बीएसएल-4 सुविधा वाली प्रयोगशाला को भेजने के निर्देश दिए गए थे।’’ ब्रिटेन, अमेरिका पुर्तगाल, स्पेन एवं कुछ अन्य यूरोपीय देशों में लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं।

READ MORE : Corona Update: सब वैरिएंट BA.4 का मिला दूसरा केस, देश में बीते 24 घंटों में कोरोना के 2,226 मामले सामने आए, इतने मरीजों ने गंवाई जान…

जानें क्या है इसके लक्षण –

  • तेज बुखार आना
  • तेज सिरदर्द
  • शरीर में सूजन होना
  • त्वचा पर लाल चकत्ते और फफोले पड़ना
  • एनर्जी में कमी होना
  • समय के साथ लाल चकत्ते घाव के रूप में बदलना
  • बीमारी को 2 से 3 सप्ताह तक रहना
  • दानों में असहनीय दर्द का होना, जोड़ों में सूजन

ऐसे फैलती है बीमारी –

  • आपको बताते चले कि, यह एक संक्रामक बीमारी है।
  • कोरोना की तरह ही छूने और छीकने से फैलती है।
  • यौन क्रिया के दौरान भी यह फैलता है।
  • ब्लड डोनेट के दौरान भी ध्यान देने की जरूरत है।
  • अगर मंकी पॉक्स से पीड़ित व्यक्ति ब्लड डोनेट करता है तो इससे दूसरे तक यह बीमारी पहुंच जाती है।
  • इस बीमारी का फिलहाल कोई दवाई नहीं है इसका इलाज स्पेशल लैब में किया जाता है।

Leave a Comment