भारत दौरे पर अगले हफ्ते होंगे इजराइल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़

New Delhi : Benny Gantz india visit भारत में अगले हफगते के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़ दौरे पर होंगे। इस दौरान वह एक आशय पत्र (एलओआई) पर हस्ताक्षर करेंगे। बहरत दौरे की ख़ास वजह, भारत और इज़राइल के बीच द्विपक्षीय राजनयिक तथा रक्षा संबंधों के 30 साल पूरे होने पर यह यात्रा का उद्देश्य बताय जा रहा है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जुलाई 2017 में इज़राइल की यात्रा के दौरान भारत और इज़राइल ने अपने द्विपक्षीय संबंधों को रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया था।

Read More : minister jyotiraditya scindia: केंद्रीय मंत्री ज्याेतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस नेता के पहुंचे घर, आज राजनांदगांव में केंद्र सरकार से जुडी आकांक्षी योजनाओं की जानकारी लेंगे

उस वक्त से दोनों देशों के बीच सम्बन्धो ने ज्ञान-आधारित साझेदारी के विस्तार पर ध्यान केंद्रित किया है, जिसमें ‘मेक इन इंडिया’ पहल को बढ़ावा देने सहित नवाचार और अनुसंधान में सहयोग शामिल है। गैंट्ज़ के कार्यालय ने एक बयान में कहा,  रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़ अगले सप्ताह (एक जून को) भारत की आधिकारिक यात्रा करेंगे। इस दौरान वह इज़राइल और भारत के बीच राजनयिक एवं रक्षा संबंधों के 30 साल पूरे होने के मौके पर एलओआई पर हस्ताक्षर करेंगे।

बयान के मुताबिक, यात्रा की पूरी डिटेल्स आने वाले दिनों में जारी किया जाएगा। मिली जानकारी किए अनुसार, वह भारत के तीन दिवसीय दौरे पर जाएंगे और अपने भारतीय समकक्ष राजनाथ सिंह से मुलाकात करेंगे। यात्रा के अन्य विवरणों पर काम किया जा रहा है। स्थानीय मीडिया की कुछ खबरों में एलओआई की व्याख्या ‘विशेष सुरक्षा घोषणापत्र’ से की गई है।

Read More : बॉलीवुड एक्ट्रेस ने इजराइल के पूर्व प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को गिफ्ट की ऐसी चीज, सोशल मीडिया में लोगो ने बांधे तारीफों के पुल..

बता दें की, इजरायल रक्षा मंत्री गैंट्ज़ मार्च महिजने में ही भारत के दौर पर आने वाले थे। मागरत इसी बीच इज़राइल में घातक आतंकी हमलों के चलते उन्हें अपनी यात्रा को डिले करना पड़ा था। इज़राइल के रक्षा उपकरणों के सबसे बड़े खरीदारों में भारत भी एक है। लेकिन इस सम्बन्ध में नई शुरुआत तब हुई जब हथियार प्रणालियों के संयुक्त विकास पर ध्यान केंद्रित किया गया।

Read More : पेगासस मामले में SC ने केंद्र को लगाई फटकार,कहा-नामी लोगों और पत्रकारों की नहीं करा सकते जासूसी, यह गंभीर

भारत के पीएम मोदी ने साल 2022 के जनवरी में कहा था की भारत-इज़राइल संबंधों को आगे बढ़ाने के वास्ते नए लक्ष्य निर्धारित करने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता। उन्होंने कहा था कि दोनों देशों के बीच सहयोग ने दोनों राष्ट्रों की विकास कहानियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

Leave a Comment