Hapur Boiler Blast update: किराए पर चलाई जा रही थी ‘मौत की फैक्ट्री, कारतूस बनाने के भी मिले सबूत, मरने वालों की संख्या अब हुई 13…

 

 

 

हापुड़, Hapur Boiler Blast: जिले के धौलाना में औद्योगिक क्षेत्र में शनिवार को एक केमिकल फैक्ट्री में बॉयलर फटने से 13 लोगों की मौत हो गई. धौलाना में उत्तर प्रदेश स्टेट इंडस्ट्रियल अथॉरिटी (UPSIDA) में स्थित फैक्टरी में घटना प्रभावित इलाके में करीब 30 लोग मौजूद थे. इस घटना के बाद योगी सरकार ने जांच के भी आदेश दे दिए है, जिसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है. वहीं अब इस घटना में चौंकाने वाली जानकारी सामने आ रही है.

 

READ MORE:Big Accident: ट्राली पलटने से हुआ बड़ा सड़क हादसा, 5 लोगों की मौत, 18 घायल, एक ही गांव से थे सभी लोग…

 

हापुड़ की जिलाधिकारी मेधा रूपम (District Magistrate Medha Rupam) ने बताया कि धौलाना की संबंधित इंडस्ट्रीज को इलेक्ट्रॉनिक सामान बनाने का लाइसेंस मिला हुआ था (Industries got license to manufacture electronic goods), ऐसे में विस्फोटक सामान कैसे बन रहा था? वहीं यह भी सामने आया है कि इस फैक्ट्री (Hapur Factory Blast) का जिसके नाम लाइसेंस था, उसने किसी दूसरे को चलाने के लिए दे दिया था.

 

किराए के मकान पर चल रही थी फैक्ट्री

 

हापुड़ की जिलाधिकारी मेधा रूपम ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में एक—एक फैक्टरी की जांच होगी. जांच में कोई अधिकारी या अन्य जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी. डीएम ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक सामान बनाने वाली इस फैक्ट्री का लाइसेंस 2021 में लिया गया था. इस फैक्ट्री में केमिकल या फिर विस्फोटक सामान कहां से आया, इसकी जांच की जा रही है. आईजी परवीन कुमार ने बताया कि प्राथमिक जांच में यह भी खुलासा हुआ है कि इस फैक्ट्री का मालिक दिलशाद है, जो मेरठ का रहने वाला है. हाल ही में उसने वसीम नाम के शख्स को फैक्ट्री किराए पर दिया था.

 

 

READ MORE:BREAKING : कांकेर में सीएम भूपेश बघेल कुछ देर में लेंगे अफसरों की समीक्षा बैठक, समस्या का होगा तत्काल समाधान

 

फैक्ट्री संचालक भी हुआ घायल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस धमाके में फैक्ट्री संचालक वसीम भी घायल हुआ है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि फैक्ट्री के अंदर और बाहर कारतूस जैसी चीजें बरामद हुई हैं. पुलिस का अंदेशा है कि टॉय गन में इस्तेमाल होने वाले कारतूस भी यहां बन रहे थे. इन्ही में बारूद का इस्तेमाल किया जाता है.

 

Leave a Comment