चिटफंड कंपनी ने रिटायर्ड कर्मचारी से की 11 लाख की ठगी, पुलिस जांच में जुटी

अनूपपुर, एसके मिनोचा। चिटफंड कंपनी द्वारा रिटायर्ड कर्मचारी से 11 लाख की ठगी करने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित कर्मचारी की शिकायत पर कोतमा पुलिस ने चिटफंड कंपनी के एजेंट व मैनेजर के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया है।

Read More : स्वयं को आरटीआई कार्यकर्ता और पत्रकार बताकर करता था ठगी, आरोपी गिरफ्तार

बता दे कि ग्राम दुलही बांध निवासी सोहनलाल जायसवाल ने थाने में शिकायत किया कि शांति जीवन रियालटी एंड ग्लोबल मार्केटिंग कंपनी के एजेंट रामकृष्ण कश्यप तथा मैनेजर विनोद सिन्हा के द्वारा कूट रचित दस्तावेज देकर 11 लाख रुपए की ठगी कर ली है। पीड़ित सोहनलाल ने बताया कि बिजुरी कालरी में ड्यूटी कर वर्ष 2015 में रिटायरमेंट हो गया, कपिलधारा कॉलोनी में रहने के दौरान रामकृष्ण कश्यप मेरे कॉलरी क्वार्टर के पास ही रहते थे।

Read More : Raipur Breaking : क्रिएटिव टेक्नॉलाजी कंपनी के डॉयरेक्टर कर्नाटक से गिरफ्तार, शेयर मार्केट में पैसा लगाने के नाम पर की थी 87 लाख की ठगी

जिन से जान पहचान थी रिटायरमेंट होने के बाद ग्रेच्युटी का पैसा जमा करने बिजुरी सेंट्रल बैंक जा रहा था, तब कोतमा बस स्टैंड पर राम कृष्ण कश्यप मिले उनसे हाल चाल पूछने के बाद बताया कि पैसा जमा करने जा रहा हूं और यदि कोई अच्छी स्कीम होगी तो उसमें जमा करूंगा। तब मुझे राम कृष्ण कश्यप ने बताया कि मैं शांति जीवन रियल्टी एंड ग्लोबल मार्केटिंग कंपनी का एजेंट हूं, यह अच्छी कंपनी है।

Read More : लॉटरी का झांसा देकर गृहणी से 9 लाख की ठगी, न्यूड वीडियो बनवाकर पति को भेजा, जाने वजह….

इसमें आपको हर माह करीब 50000 मिलेगा। जिससे सोहनलाल उसके झांसे में आ गया। उसके बाद एक चेक में हस्ताक्षर करके कुछ कागजात विनोद सिन्हा व राम कृष्ण को दे दिया था। जिसमें उन्होंने 10 लाख चेक में भरा जिसके बाद करीब 6-7 मेरे खाते में 50000 की राशि आई। उसके बाद कई माह तक पैसा नहीं आया। एजेंट मैनेजर द्वारा मुझे जमा पैसे की शांति ग्लोबल मार्केटिंग के हस्ताक्षर युक्त रसीद दी गई।

Read More : रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर 4 लाख की ठगी करने वाली महिला गिरफ्तार

एजेंट रामकृष्ण कश्यप व विनोद कुमार सिन्हा से पैसों के संबंध में पूछा तो कश्यप ने बताया कि पूरा पैसा शांति जीवन रियल्टी एंड ग्लोबल मार्केटिंग कंपनी में जमा कर दिया है पैसा अब मांगने पर नहीं दे रहे। हालांकि शिकायतकर्ता ने बताया 100000 रूपए इन्होंने 20-20 हजार करके और ले लिए थे। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने एजेंट व मैनेजर के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471, 120 बी के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

Leave a Comment