मेले में हुआ बड़ा हादसा, 30 फीट की ऊंचाई पर झूले में फंसे 20 लोग..घंटो घंटे तक लटके रहे उलटे…

कोरबा: शनिवार देर रात बड़ा हादसा टल गया, डिज्नी मेले में लगे हथौड़े झूले में 20 लोग करीब 30 फीट ऊंचाई पर आधे घंटे तक फंसे रहे। इस दौरान हवा में उल्टे लटके लोगों के साथ उनके परिजनों की सांसे भी थमी रहीं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद झूले को नीचे लाकर सभी लोगों की जान बचाई। इसमें कुछ लोग घायल भी हुए हैं। जिन्हे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मानिकपुर चौकी क्षेत्र के बुधवारी बाजार से रिकांडो बाइपास मार्ग पर डिज्नी लैंड मेला लगा हुआ है। इसी मेले में कई बड़े-बड़े झूले भी लोगों के लिए लगाए गए हैं। शनिवार रात वीकेंड होने के चलते बड़ी संख्या में लोग मेले में पहुंचे थे। इसी बीच रात करीब 9 बजे लोग मेले में लगे हथौड़ेनुमा झूले में लोग बैठे हुए थे। शुरुआत में तो झूला ठीक चल रहा था, लेकिन फिर अचानक ऊपर जाकर हवा में अटक गया। इसके चलते अंदर बैठे लोगों का सिर नीचे और पैर ऊपर हो गया।

READ MORE:GPM: पहले बॉयफ्रेंड को मिलने बुलाया फिर पिता से पिटवाया, अब छेड़छाड़ के आरोप में भेजा जेल…

रस्सी से झूला को बांधकर खींचा गया नीचे
घटना के बाद चीख-पुकार मच गई। ऊपर इतनी ऊंचाई पर ऐसे लोगों को फंसे देख परिजनों ने भी हंगामा कर दिया। थोड़ी ही देर में वहां आसपास के लोगों की भी भीड़ जमा हो गई। इसके बाद झूले में फंसे लोगों को निकालने की कवायद शुरू हुई। कर्मचारियों ने किसी तरह से झूले को रस्सी से बांधा फिर उसे लोगों की मदद से खींचना शुरू किया। करीब आधे घंटे तक यह सब चलता रहा। फिर किसी तरह से झूला नीचे आया और लोगों को बाहर निकाला गया।

READ MORE:GPM: संतों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी: जैन धार्मिक गुरुओं के खिलाफ कमेंट मामले मे जैन समाज ने दिया संयुक्त ज्ञापन…

बाहर निकलते ही रोने लगे लोग, बालको के तीन घायल
झूले से बाहर आते ही उसमें फंसे लोग फूट-फूटकर रोने लगे। कई ऐसे भी थे जो बात करने की स्थिति में नहीं थे। सबसे बुरी हालत महिलाओं और बच्चों की थी। किसी तरह परिजन उन्हें लेकर गए। इस बीच सूचना मिलने पर डायल-112 की टीम भी पहुंच गई। हादसे में बालको निवासी तीन लोग घायल बताए जा रहे हैं। पुलिस ने उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। बताया जा रहा है कि तकनीकी खराबी के चलते झूला फंसा था।

Leave a Comment